बॉलीवुड स्टार्स जो है - आदर्श कपल्स सिंबल

Indian Astrology | 19-Jun-2019

Views: 692

बॉलीवुड स्टार्स वस्त्र और रिश्ते बदलते फैंशन के अनुसार बदलते है। या यूं कहें कि वो रिश्तों को सुविधानुसार बदलते रहते है। यहां लेटेस्ट फैंशन के हिसाब से अपने को अपडेट रखना और रिश्तों को वस्त्रों की तरह बदलना आम बात है। बात इतनी आम है कि किसी का रिश्ता टूटना, शादी टूटना जैसी खबरों अफवाहों को अधिक तवोज्जों भी नहीं दी जाती है। तलाक और ब्रेकअप्स के अपने ही बनाए रिकार्ड्स को बॉलीवुड स्वयं तोड़ता रहा है। अन्य क्षेत्रों में इसका प्रतिशत बहुत कम है। कहने तो बॉलीवुड स्टार्स फिल्मों में प्रेम और विवाह के आदर्श स्थापित करते हैं, पर जब बात निभाने की आती है तो वो सारे नैतिक मूल्यों, आदर्शों और अपनी ही कही बातों को दरकिनार कर देते है। फिल्मों में अपने ही द्वारा चित्रित चरित्रों का पालन वो कभी नहीं करते है। सफलता की रोशनी की चकाचौंध के साथ ही रिश्तों की अहमियत लगातार गिरती जा रही है। जो भारतीय संस्कॄति के लिए खुशी की बात नहीं कही जा सकती है।

हम सभी यह जानते है कि आम आदमी इन्हें अपना आदर्श मानता है और अपने पसंदीदा कलाकारों के जीवन को फोलो करने का प्रयास भी करता है। ऐसे में जब हम अपने कुछ चहते स्टार्स को दशकों तक एक साथ सुखी वैवाहिक जीवन व्यतीत करते हुए देखते है तो हैरानी अवश्य होती है। फिल्मों में अभिनय करते करते बॉलीवुड स्टार्स शायद रिश्तों को अहमियत देना भूल गए है, फिर भी कुछ उदाहरण है जो आदर्श कपल्स के रुप में देखे जा सकते है। इन आदर्श कपल्स का तहेदिल से वैवाहिक जीवन को निभाना, आस्था और विश्वास के साथ एक दूसरे के साथ रहना, ठीक वैसे ही है जैसे- कीचड़ में कमल का खिलना।

सबसे पहले आज हम बात करते है किंग खान शाहरुख खान की -


शाहरुख-गौरी

शाहरुख और गौरी की प्रेम गाथा एक कहानी की तरह या रोमांटिक फिल्मों की तरह लगती है। इस कहानी में खुशी और प्रेम दोनों है। इसमें ऊंचाईयां तो है साथ ही खुशी से एक साथ जीने का जज्बा भी है। खबरों की मानें तो डेटिंग के दौरान, शाहरुख कभी-कभी गौरी को लेकर कुछ ज्यादा ही चिंतित रहते थे, इस वजह से शाहरुख ने कई बार गौरी को नाराज भी किया। इसी नाराजगी में गौरी एक दिन बिना बताये मुंबई के लिए रवाना हो गई। इधर परेशान शाहरुख ने भी अपनी मां से कुछ पैसे उधार लिए और गौरी से मिलने चले गए। इस प्रकार दोनों ने महसूस किया कि दोनों एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते। दोनों ने विवाह किया और तीन बच्चों के आज ये माता-पिता है। शाहरुख की ऑन-स्क्रीन लवर बॉय इमेज ने कभी गौरी को उनके रिश्ते के बारे में असुरक्षित नहीं बनाया। 25 अक्तूबर 1991 में दोनों विवाह सूत्र में बंधे और आज 28 वर्षों के बाद भी सुखमय वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे है।

Get Your Online Match Analysis Detailed Features


अमिताभ बच्चन - जया भादुड़ी

बॉलीवुड के स्वर्णिम जोड़े माने जाने वाले अमिताभ और जया का रिश्ता किसी परिचय का मोहताज नहीं है। 3 जून, 1973 को शादी के बंधन में एक बार जो बंधे तो गुजरते समय के साथ एक दूसरे के लिए उनका प्यार पहले से कहीं ज्यादा मजबूत होता जा रहा है। हालांकि, इस खुशहाल जोड़े को अपनी शादी में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। अमिताभ और रेखा के बीच प्रेम संबंध की अफवाहों ने उनके रिश्ते को तनाव में डाल दिया। सभी बाधाओं के बावजूद, जया और अमिताभ इस उथल-पुथल से बच गए और उनकी शादी अभी भी मजबूत है। जया हर संकट में अपने पति के साथ खड़ी रही। जब उन्होंने बोफोर्स घोटाले में आरोपी थे या जब वे एबीसी कंपनी के डूब रही थी, तब भी जया ने अपने पति का साथ दिया। जब इस जोड़ी ने चार दशक से अधिक समय का समय साथ-साथ मनाया है। अमिताभ बच्चन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर 42वें विवाह वर्षगांठ पर अपना और जया जी का एक सुंदर वाक्या सांझा किया। दोनों की यह जोड़ी सभी के लिए आदर्श है।


अजय देवगन - काजोल

काजोल और अजय देवगन साबित करते हैं कि विरोधी भी कभी कभी एक दूसरे को आकर्षित कर सकते है, जब प्यार का जादू चलता है। विरोधी यहां इसलिए कहा गया क्योंकि दोनों का स्वभाव एक दूसरे से एक दम विपरीत है। काजोल चुलबुली और अजय एक दम धीरगंभीर स्वभाव वाले है। या यूं कहें कि अजय और काजोल इंडस्ट्री की सबसे विपरीत जोड़ी हैं क्योंकि अजय शर्मीले हैं और काजोल एक जीवंत व्यक्तित्व हैं। उनकी वैवाहिक जीवन को भी बहुत सारी उतार चढ़ाव से भरी स्थितियां देखने को मिली हैं। लेकिन दंपति ने सभी विवादों और टेस्टों को पास किया और सबका दिल जीत लिया और एक दूसरे के साथ मजबूती से खड़े रहें है। शादी करने से पहले एक दूसरे को 4 साल तक डेट किया और एक दूसरे से शादी करने वाले बेस्ट फ्रेंड्स का यह सबसे अच्छा उदाहरण है। इन दोनों ने हमेशा कठिनाइयों में एक दूसरे का साथ दिया, और एक की कमी को दूसरे ने पूरा किया। हम उनके लिए जीवन भर खुशियों की कामना करते हैं।

Also Read: बॉलीवुड अभिनेत्रियाँ - विवाह पश्चात मारपीट


धर्मेंद्र - हेमा मालिनी

बॉलीवुड के ही-मैन एक विवाहित व्यक्ति थे, लेकिन यह ड्रीम गर्ल, हेमा मालिनी द्वारा उन्हें घेरने से नहीं रोक पाया। हेमा, शुरू में अपने अग्रिमों से अलग रहीं क्योंकि वह किसी ऐसे व्यक्ति के साथ नहीं जुड़ना चाहती थीं जो शादीशुदा था। हालांकि, महाकाव्य फिल्म शोले के सेट पर, उनका प्यार खिल उठा। इस जोड़े ने जल्द ही एक मोटा पैच मारा, जब धर्मेंद्र की पहली पत्नी प्रकाश कौर ने उन्हें तलाक देने से इनकार कर दिया। हेमा को संजीव कुमार के साथ-साथ जीतेंद्र ने भी लुभाया था। वास्तव में, उनके जीवनी लेखक का दावा है कि हेमा मालिनी ने लगभग जीतेन्द्र से शादी की थी। लेकिन, जब धर्मेंद्र ने मन बनाया, तो उसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा। हालाँकि, उन्होंने अपनी पहली पत्नी को नहीं छोड़ा और इस्लाम में धर्मांतरित करना चुना, ताकि वह और हेमा शादी कर सकें। दोनों अभिनेताओं ने 1979 में इस्लाम में परिवर्तित हो गए, अपने नाम बदलकर दिलावर खान केवल कृष्ण और आइशा बी आर चक्रवर्ती के साथ शादी कर ली। दंपति के दो बच्चे हैं, ईशा और अहाना।


अभिषेक-ऐश्वर्या

बॉलीवुड के शक्तिशाली जोड़ों में से एक, अभिषेक बच्चन और ऐश्वर्या राय बच्चन बस हमें विश्वास दिलाते हैं कि विवाह स्वर्ग में किए जाते हैं। यह 2006-2007 के दौरान था जब ये एक साथ तीन फिल्मों की शूटिंग कर रहे थे उस समय इनके प्यार का फूल खिला। धूम 2 की शूटिंग के दौरान, दोनों की भावनाएं एक दूसरे से जुड़ी और समय के साथ दोनों अप्रैल 2007 में प्रेम बंधन में बंध गए। दोनों दंपतियों के बरसों के प्यार के बाद, एक-दूसरे के लिए आपसी प्यार काफी बढ़ गया है। दोनों अपनी बेटी आराध्या के माता-पिता बनें हुए है।

Get Your Online Milan Phal


दिलीप-सायरा

दिलीप कुमार और सायरा बानो की उम्र में 22 साल का अंतर था, लेकिन उन्होंने इसे अपने प्यार के बीच नहीं आने दिया। सायरा बानो हमेशा से ही 'ट्रेजेडी के बादशाह' दिलीप कुमार की बहुत बड़ी फैन थीं, वो अपने हीरों से शादी को सिर्फ एक सपना मानती थी, परन्तु परिस्थितियां कुछ इस प्रकार बदली कि दोनों विवाह सूत्र में बंध गए। 1966 में उनकी शादी जब सायरा से हुई, उस समय सायरा सिर्फ २२ की थी। विवाह के कुछ साल बाद ही सायरा ने पूरी तरह से अभिनय छोड़ दिया। एक पाकिस्तानी लड़की, अस्मा के साथ कथित विवाह की ख़बरें आने पर भी सायरा अपने पति के साथ मजबूती से खड़ी रही। पिछले कई वर्षों से दिलीप कुमार बेड पर है और सायरा पूरे समर्पण भाव से अपने पति की देखभाल कर रही है। इस युगल को अभी भी बहुत प्यार के साथ एक दूसरे के साथ हाथ में हाथ डाले देखा जा सकता है।


ऋषि-नीतू

बॉलीवुड के ऋषि कपूर को अपनी सह-कलाकार नीतू सिंह से प्यार हो गया। दोनों की रील लाइफ केमिस्ट्री बॉक्स ऑफिस पर पहले से ही सफल थी और लाखों युवा प्रशंसकों के दिलों में यह जोड़ी बसी हुई थी। अब असल जिंदगी में भी दोनों कपल्स बन गए थे। विवाह के समय नीतु की उम्र सिर्फ २१ वर्ष की थी, और उस समय सबसे अधिक फीस लेने वाली अभिनेत्रियों में से एक थी, इन्होंने भी विवाह के बाद अपने करियर को विराम दे दिया। इसके आलोचना बहुत से लोगों ने यह कहकर की यह एक मजबूरी की सेवानिवृत्ति थी। लेकिन नीतू ने अफवाह फैलाने वालों को यह कहते हुए चुप करा दिया कि यह उनकी व्यक्तिगत मर्जी है। ऋषि और नीतू दो बच्चों, रणबीर और रिद्धिमा के माता -पिता है। दोनों की स्नेह समय के साथ बढ़ता ही जा रहा है।

Ask to our celebrity astrologer about your life: Astrology Consultant


अक्षय कुमार - ट्विंकल

अक्षय कुमार, बॉलीवुड में खिलाड़ी के नाम से जाने जाते है। विवाह से पूर्व अक्षय अपने महिला स्टार्स को लेकर काफी चर्चाओं में रहे, रवीना टंडन, पूजा बत्रा और शिल्पा शेट्टी जैसी अभिनेत्रियों के साथ इनके नाम जुड़े और अंतत: इन्होंने 2001 में ट्विंकल के साथ विवाह कर लिया। अक्षय कुमार एक साल में तीन से चार फिल्में देने के लिए जाने जाते है। और सबसे अधिक कमाई करने वाले स्टार्स में एक है। विवाह के 18 वर्ष बीत जाने के बाद दोनों एक दूसरे के आदर्श पति-पत्नी साबित हो रहे है। दोनों को एक-दूसरे का पूर्ण समर्थन और सहयोग मिलता है। विवाह के बाद ट्विंकल ने अपने आप को अन्य उदयोगों से जोड़ लिया। आज ट्विंकल एक सफल इंटीरियर डिजाइनर और लेखक के रूप में जानी जाती है। अक्षय और ट्विंकल दंपति दो बच्चों- आरव और नितारा के माता-पिता हैं और सुखी वैवाहित जीवन व्यतीत कर रहे है।


उपरोक्त कलाकारों का वैवाहिक जीवन क्यों सफल रहा और वह भी ऐसे माहौल के मध्य रहने के बावजूद जहां रिश्तों की अहमियत बदलते कपड़ों से अधिक कुछ भी नहीं है। आईये इसका विश्लेषण हम ज्योतिषीय योगों से करते है। कौन से ज्योतिषीय योग वैवाहिक जीवन को आजीवन ना टूटने वाला सूत्र बना देते है। आईये जानें-

  • वैवाहिक जीवन के सुखमय और दीर्घकालीन होने के लिए 1, 2, 4, 5 वां और 7 वां और बारहवें भाव का गहन अध्ययन करना चाहिए।
  • पंचम भाव रोमांस का भाव, संतान का भावफ़ और विचारों / भावनाओं के आदान प्रदान का क्षेत्र है। इस भाव, भावेश का सप्तम भाव से संबंध बनना वैवाहित जीवन को जन्मजन्मांतर का बनाता है।
  • 7 वां भाव और 7 वें भाव का स्वामी चंद्र या शुक्र के प्रभाव में होना चाहिए।
  • बारहवां भाव - शयन का भाव है। इसका पापी, अशुभ और क्रूर ग्रहों के प्रभाव में आना सही नहीं माना जाता है.
  • 4 भाव - खुशी का भाव है।
  • दूसरा भाव - कुटुम्ब और धन का भाव है।
  • चंद्रमा मन का कारक ग्रह है और शुक्र सप्तम भाव का महत्वपूर्ण ग्रह है यह वीर्य का भी कारक ग्रह है।
  • मंगल - इसकी स्थिति भी मंगलिक योग बनाने वाले भावों में नहीं होनी चाहिए और यदि है तो दोनो की कुंडलियों में मंगलिक योग होना चाहिए।
  • सप्तम भाव पर सुस्थित गुरु की दृष्टि, प्रभाव शुभ भावों से होनी चाहिए।
  • महिलाओं की कुंडली में बृहस्पति ग्रह पति का प्रतिनिधित्व करता है।
  • जन्मपत्री का सप्तम भाव विवाह का भाव माना जाता है। सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस भाव पर शुभ ग्रहों का शुभ प्रभाव होना चाहिए। सप्तम भाव और सप्तमेश दोनों की स्थिति वैवाहिक जीवन की शुभता को बेहतर करती है। आठवां भाव आमतौर पर जीवन साथी के परिवार का भाव है। अत: यह भाव शुभ ग्रहों से युक्त हो तो विवाह के लिए अच्छा होता है।
  • सातवें भाव का पीडित होना शुभ नहीं माना जाता है। अत: सप्तम भाव शुभ भावों के स्वामियों से दॄष्ट होना चाहिए और वक्री ग्रहों के प्रभाव से मुक्त होना चाहिए।
  • द्वितीय भाव, सप्तम भाव और अष्टम भाव नवमांश कुंडली में शुभ होना चाहिए। जैसा की विदित है कि नवमांश कुंडली को वैवाहिक जीवन के सूक्ष्म विश्लेषण के लिए किया जाता है।
  • यदि शुभ ग्रह द्वितीय भाव, सप्तम और अष्टम भाव के स्वामी हों तो जातक का दांपत्य जीवन खुशियों से भरा होगा।
  • यदि कुंडली के छठे भाव में सप्तम भाव का स्वामी उपस्थित हो तो दाम्पत्य जीवन में बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।

हमारी कामना है कि सभी कपल्स का वैवाहिक जीवन सदैव के लिए सुखमय बना रहें।

brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer