इन वास्तु उपायों की मदद से प्राप्त हो सकता है धन।

Future Point | 26-May-2019

Views: 281

धन की समस्या अक्सर हर व्यक्ति के जीवन में बनी रहती है जिसकी वजह से इंसान के जीवन में आर्थिक परेशानियां आने लगती हैं, ऐसी स्थिति में घर में सुख और समृद्घि बनाये रखने के लिए ज्योतिष और वास्तु के नियमो का पालन करने से लाभ अवश्य ही मिलता है, वास्तु और ज्योतिष में धन संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए कुछ ख़ास उपाय बताये गए हैं, जिन्हें करके आप अपने जीवन में धन संबंधी समस्याओं को दूर कर सकते हैं।

वास्तु अनुसार धन प्राप्ति के कुछ उपाय –

• तुलसी का पौधा लगाने से घर में कभी भी धन की हानि और धन की कमी नही होती है, अतः आप अपने घर में तुलसी का पौधा अवश्य ही लगाएं, वास्तु के अनुसार तुलसी का पौधा आपके घर के वास्तु दोष को भी दूर करता है।

• वास्तु शास्त्र के अनुसार बैंगनी रंग के फूलों का गमला यदि आप अपने घर में लगाते हैं तो इससे माँ लक्ष्मी बहुत प्रसन्न होती हैं और धन के आगमन के रास्ते खुलने लगते हैं।

• इस बात का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए कि जहां कहीं भी आप तिजोरी को रखें उसके ऊपर कोई भारी - भरकम डिब्बा ना रखें, वास्तु शास्त्र की मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से घर की आर्थिक स्थिति पर वजन पड़ता है, परन्तु यदि आप चाहते हैं कि यही तिजोरी आपके लिए धन का खजाना बन जाए तो आप इसके रखे हुए स्थान के ठीक सामने एक शीशा लगवा दें, ऐसा करने से जब भी आप तिजोरी का दरवाजा खोलेंगे तो उसमें रखा धन सामने लगाए गए शीशे में भी दिखाई देगा।

• छोटे घरों में व्यक्ति मनी प्लांट लगाने के अलावा अन्य विकल्पों का चयन भी नहीं कर सकता, परन्तु यदि आपके पास बड़ा घर एवं अधिक जगह है तो आप बड़े पेड़-पौधे लगाएं और इन्हें घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में ही लगाना चाहिए परन्तु बड़े पेड़-पौधें को घर या ऑफिस की उत्तर-पूर्व दिशा में नही लगाना चाहिए, ऐसा करने से आर्थिक तंगी आती है और बाहर की ओर धन का प्रवाह होने लगता है, अतः धन पाने के लिए आप केवल दक्षिण-पश्चिम दिशा का ही प्रयोग करें लेकिन घर की मध्य दिशा को हमेशा खाली रखें।

• वास्तु के अनुसार उत्तरी दिशा धन के देवता भगवान कुबेर के स्थान को दर्शाती है, इस दिशा को प्रभावी बनाने से आर्थिक स्थिति मज़बूत होती है और आपको सुखों का आनंद प्राप्त होता है, धन, जेवर व प्रॉपर्टी से जुड़े ज़रूरी कागज़ात को हम इस कोने में रख सकते हैं, वैसे इस दिशा में कुबेर यंत्र या मां लक्ष्मी व कुबेर देव की मूर्ति रखने से भी लाभ प्राप्त होता है।

• वास्तु के अनुसार दक्षिण पूर्वी दिशा धन का प्रतिनिधित्व करती है और इस दिशा को “धन का कोना” कहा जाता है। इस दिशा को छोटी लकड़ी कहते हैं और हरा रंग इसका प्रतिनिधित्व करता है, और इस दिशा में हरे रंग की चीज़ों का ज़्यादा से ज़्यादा इस्तेमाल करने से हमारे जीवन में धन संपदा की बढ़ोत्तरी होती है, और आर्थिक स्थिति मज़बूत होती जाती है व भव्य जीवनशैली प्राप्त होती है।

• आपके घर का मुख्य द्वार पूर्व या उत्तर दिशा में हो तो श्रेष्ठ रहता है, लेकिन ऐसा न हो तो घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक, भगवान श्री गणेश जी का चिह्न लगाना चाहिए।

• इस बात का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए कि घर में खिड़की दरवाजों की संख्या सम हो तो शुभ रहता है, सम यानी 2, 4, 6, 8 या 10. दरवाजे खिड़कियां अंदर की तरफ ही खुलनी चाहिए, यह श्रेष्ठ रहता है।

• इस बात का भी विशेष ध्यान रखें कि घर में फालतू और बेकार सामान नहीं होना चाहिए, इस चीजों से घर में तनाव बना रहता है।

• आपको अपनी तिजोरी के दरवाजे पर कमल के आसन पर बैठी हुई महा लक्ष्मी जी की तस्वीर लगानी चाहिए।

• इस बात का ध्यान रखें कि दक्षिण की दीवार पर दर्पण नहीं लगाना चाहिए, दर्पण पूर्व या उत्तर की दीवार पर होगा तो श्रेष्ठ रहेगा।

• यदि आपके घर की दीवार या छत पर दरार हो तो उन्हें जल्दी ही ठीक करवा लेना चाहिए।

• प्रातः लक्ष्मी जी का पूजन घर में प्रति दिन किया जाना चाहिए और सायंकाल को घर के मुख्य द्वार पर दायीं ओर एक घी का दीया जरूर जलाना चाहिए, इन दोनों कार्यों से धन की देवी लक्ष्मी जी प्रसन्न होकर व्यक्ति के पास ही रहती हैं।

• वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के हर कोने में प्रति दिन में एक बार तो प्रकाश अवश्य ही करना करना चाहिए, ऐसा करने से माँ लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है।