जानिए, बुध ग्रह का प्रभाव क्या स्थिति बनाता है जातक के जीवन में।

Future Point | 20-Jul-2019

Views: 190

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहों में बुध ग्रह का महत्व बड़ा ही व्यापकहोता है. ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह के कमजोर होने से इंसान की जिंदगी में कई सारी समस्याएं आ जाती हैं और लेकिन अगर कुंडली में बुध बलवान हो तो इंसान को कई सारी खुशियों की सौगात मिल जाती है. तो आइये जानते हैं कि आखिर बुध हमारे जीवन को किस तरह प्रभावित करता है।

ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह का महत्व -

बुध कहने को एक छोटा सा ग्रह है लेकिन ज्योतिष शास्त्र में बुध एक महत्वपूर्ण ग्रह के तौर पर गिना और देखा जाता है. इसे देवताओं का राजकुमार भी कहते हैं. ज्योतिष में कहा गया है बुध सही तो सब शुद्ध यानि सब कुछ सही रहता है लेकिन अगर यही बुध अगर बिगड़ गया, नीच का हो गया या फिर उसने नजर फेर ली तो खुशियां बिगड़ जाती हैं।

बुध ग्रह के अशुद्ध होने पर जातक पर पड़ने वाला प्रभाव -

  • जातक की जिंदगी में मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ता है, जातक बीमारियों के चंगुल में फंस जाता है और शरीर की आभा खत्म होने लगती है।
  • जातक कर्ज से परेशान रहने लगता है और आर्थिक तौर पर बुरी तरह प्रभावित रहता है।
  • कुंडली में बुध ग्रह खराब होने पर जातक के पद प्रतिष्ठा, मान सम्मान, यश बल सबसे गिरावट आने लगती है।
  • जातक शिक्षा में कमजोर हो जाता है, सूंघने की शक्ति घट जाती है, अपनी बातों के जरिए प्रभावशाली नहीं बन पाता है।
  • बुद्धिवान होने के अंहकार से ग्रसित हो जाता है।

बुध ग्रह के शुद्ध होने पर जातक पर पड़ने वाला प्रभाव-

  • किसी भी व्यक्ति की कुंडली में बुद्ध ग्रह के शुद्ध होने से व्यक्ति सौंदर्यवान हो जाता है. उसकी आभा अनुपम हो जाती है।
  • व्यक्ति अच्छा वक्ता होता है जिसकी बातों को लोग ध्यान से सुनना पसंद करते हैं।
  • आमतौर पर कुंडली में बुध की स्थिति ही तय करती है कि इंसान कैसा बोलता है और कैसा व्यवहार करता है या फिर उसकी बुद्धि और व्यक्तित्व कैसा है।
  • बुध ग्रह से बलवान व्यक्ति अगर व्यापार करता है तो उसे खूब सफलता मिलती है, खासकर शेयर बाजार या रुपये से संबंधित कारोबार में विशेष लाभ मिलता है।
  • बुध ग्रह आपके पक्ष में रहे तो आपको मालामाल कर देगा, आपको यश बल कीर्ति से आकाश की अनंत ऊंचाइयों तक पहुंचा देगा।

कुंडली में बुध अगर कमजोर हो तो समस्याएं व्यापक हो जाती हैं. बुध के कमजोर होने से बुद्धि भ्रष्ट हो जाती है और वाणी में दोष आ जाता है. साथ ही बुध के कमजोर होने से इंसान की सुंदरता भी प्रभावित होती है लेकिन बुध के कमजोर होने से किन राशि पर क्या खास असर पड़ता है. चलिए अब आपको ये भी बता देते हैं।

बुध ग्रह का राशियों पर पड़ने वाला प्रभाव -

  • मेष राशि:
  • नौकरी में खूब समस्या आती है, नौकरी छूटने का भी डर रहता है, जीवन कर्जों और बीमारियों में घिर जाता है।

  • वृष राशि:
  • बुध का खासा महत्व है. बिना अच्छे बुध के बिना जीवन सुखमय नहीं हो सकता।

  • मिथुन राशि:
  • जीवन में संघर्ष बढ़ जाता है, नौकरी में परेशानियां हो सकती हैं।

  • कर्क राशि:
  • स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है और यात्रा पर भी बुरा असर पड़ता है. चरित्र और बुद्धि बदल जाती है. जीवन में अपयश के योग बढ़ जाते हैं।

  • सिंह राशि:
  • मजबूत बुध के बिना धन का योग नहीं है. एक-एक पैसे के लिए तरसना पड़ता है।

  • कन्या राशि:
  • स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है और धन घटने लगता है. सौंदर्य घटने लगता है. करियर में बाधा उत्पन्न होने लगती है।

  • तुला राशि:
  • भाग्य साथ नहीं देता है और मन चंचल हो जाता है. चरित्र कमजोर हो जाता है।

  • वृश्चिक राशि:
  • योग्यता के बावजूद उपलब्धि नहीं मिलती. त्वचा या वाणी से संबधित विकार हो सकता है।

  • धनु राशि:
  • शादी में परेशानी या शादी नहीं होगी, वैवाहिक जीवन में समस्याएं पैदा होने लगती हैं।

  • मकर राशि:
  • इंसान कर्ज में डूब जाता है और नौकरी में बाधा आती है. भाग्य साथ नहीं देता है।

  • कुंभ राशि:
  • बुद्धि की समस्या परेशान करती है. संतान पक्ष से समस्या के योग बन जाते हैं।

  • मीन राशि:
  • जीवन में किसी भी प्रकार का सुख नहीं मिलता. वैवाहिक जीवन बरबाद हो जाता है. संपत्ति का नुकसान हो जाता है।