अगर पाना चाहते है अच्छी नौकरी तो करें वास्तु के ये टिप्स

Indian Astrology | 13-May-2019

Views: 709

शिक्षा पूर्ण करने के बाद हर व्यक्ति की यह कामना होती है कि उसे एक अच्छी नौकरी मिले। तकनीकी क्षेत्रों में कुशल होने के बाद नौकरी की प्राप्ति सरल हो जाती है। अन्यथा एक बेहतर नौकरी की प्राप्ति में कई वर्षों तक इधर-उधर भटकने के बाद भी योग्यतानुसार नौकरी की प्राप्ति नहीं हो पाती है। एक निश्चित आय का साधन होने से, जीवन की दिनचर्या और जिम्मेदारियों को निभाने में सहयोग मिलता है। कभी कम वेतन, कभी असुविधा की स्थिति होने पर नौकरी में बदलाव का सोचना पड़ता है। एक मनपसंद नौकरी तलाश रहें है तो आपको निम्न वास्तु उपाय करने चाहिए। इससे आपको एक अच्छी नौकरी शीघ्र प्राप्त हो सकती है। वास्तु शास्त्र यह कहता है कि घर में झाडू का प्रयोग सावधानी के साथ करें। घर की साफ सफाई का कार्य करने के बाद झाडू घर के ऐसे हिस्से में रखें जहां लोगों की उस पर नजर ना पड़े और लोगों का पैर भी उस पर ना पड़े।

इसके अलावा नौकरी की तलाश पर जाते समय घर से हनुमान चालिसा का पाठ करके निकलें। ऐसा माना जाता है कि नित्य प्रात: हनुमान चालिसा का पाठ करने से जीवन की सभी समस्याएं दूर होती है। और सभी संकटों का नाश होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के ईशान कोण मे बैठकर कर इस पाठ को करना अतिशुभ और अनुकूल फलदायक रहता है। जैसा की हम सभी जानते है कि हनुमान जी का एक नाम संकट मोचन भी है और हनुमान जी अपने भक्तों के सभी संकटों को दूर कर जीवन को बाधामुक्त करते है। एक अच्छी नौकरी की तलाश को पूरा करने में हनुमान चालीसा का पाठ अमोघ और सरल उपाय है। जिसे प्रत्येक व्यक्ति कर सकता है। यदि संभव हो तो 100 दिन तक लगातार हनुमान चालीसा का पाठ करें। इससे जीवन के अन्य क्षेत्रों से जुड़े कार्य भी बनने लगेंगे। ध्यान देने योग्य बात यह है कि यदि हनुमान चालीसा का पाठ प्रति दि 108 बार किया जाए तो वह अचूक फल देता है। इसमें समय अधिक लग सकता है परन्तु इससे नौकरी प्राप्ति की संभावनाएं निश्चित हो जाती है। नौकरी प्राप्ति का यह सोमवार के दिन से शुरु करें।

Also Read: 5 clear indications that it's time to look for a new job!

मनपसंद नौकरी की प्राप्ति के लिए शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार से भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सोमवार व्रत का पालन करें। इससे भी आपकी मनोकामना शीघ्र पूरी हो सकती है। अच्छी नौकरी पाने के लिए आप इस उपाय को तब तक करते रहें जब तक आपको अपनी पसंद की नौकरी नहीं मिल जाती है। भगवान शिव जल्द प्रसन्न होते है, उन्हें प्रसन्न करने के लिए दूध और जल अभिषेक करें। चावल, रोली, कुमकुम और फूल चढ़ाएं। यहां आपको यह ध्यान रखना है कि भगवान शिव को अक्षत भी जरुर चढ़ाएं, और चावल टूट हुए नहीं होने चाहिए। व्रत कर सायंकाल में प्रदोष काल में भगवान शिव को भोग लगाकर, स्वयं भी प्रसाद ग्रहण करें। भोग में दूध से बनी वस्तुओं को प्रयोग किया जा सकता है।

• जब भी घर से नौकरी तलाशने या इंटरव्यू के लिए घर से जा रहे हों उस समय घर से निकलते समय उड़ते हुए हनुमान जी के दर्शन करके निकलें। इसके लिए आप ऐसे चित्र घर में रख सकते हैं, जिसमें हनुमान जी उड़ रहे हों। साथ ही हनुमान जी से अपनी कामना पूरी करने की विनती करें।

♠ नौकरी से जुड़े किसी भी कार्य के लिए जा रहे हों तो यह आवश्यक है कि निकलते समय गाय के लिए घर से गुड़, रोटी और पक्षियों के लिए दाना लेते जाएं। आपका कार्य जल्द पूरा हों और आपको नौकरी जल्द मिलें, इसके लिए आप अपनी जेब में लाल रंग का रुमाल रख सकते है। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से नौकरी की तलाश पूरी होती है और सभी कार्य बनते है।

• नौकरी पाने के लिए एक अन्य उपाय करें- एक साफ-सुथरा नींबूं लें। ध्यान रखें कि नींबूं पर किसी भी तरह का कोई दाग ना हो। नींबू को लेकर भगवान के चरणॊं में अर्पित करें, इसके पश्चात अपने ईष्ट देव का पूजन करें। नींबू पर कुछ बूंदे गंगाजल की छिड़्के। तत्पश्चात इस नींबूं को अपने सिर से सात बार उतार कर इसे चार भागों में बांट लें। इसके टुकड़े इस प्रकार करें कि ये नीचे से जुड़े रहें। बाद में इसे एक चौराहे पर रख दें। नौकरी प्राप्ति के लिए यह उपाय आपको प्रतिदिन 41 दिन करना होगा। ऐसा करने से आपको जल्द नौकरी प्राप्त होगी और आपको अपनी मेहनत का फल मिलना भी शुरु होगा।

♠ कार्य के लिए घर से निकलते समय मीठी दही का सेवन करके निकलें। गुड़ या अन्य किसी मीठे का सेवन भी किया जा सकता है।

• बजरंग बाण का प्रतिदिन पाठ करने से भी भगवान हनुमान प्रसन्न होते हैं और मन वचन कर्म से भगवान हनुमान का मनन करते रहें। यथा संभव ऊं हं हनुमते नम: मंत्र का पाठ करें।

♠ संध्या पाठ करने से भी मनोवांछित कामना की पूर्ति होती है। कहा जाता है कि रुके हुए कार्यो को पूरा करने में हनुमान जी विशेष सहायता करते है।

• इंटरव्यू पर जिस दिन जाना हो, उस दिन स्नान के जल में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर स्नान करें।

♠ स्नान के बाद अपने ईष्ट देव को धूप, दीप और फूल चढ़ाना ना भूले।

• पूजन करते समय ११ अगरबत्ती जलायें और दीए को जलाने के लिए घी का प्रयोग करें।

♠ भगवान शनि का पूजन करें और शनिवार के दिन 108 बार मंत्र का जाप करें। मंत्र - ॐ शं शनैश्चराय नम:

• शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार के दिन एक सफेद रंग का वस्त्र लेकर उसमें काले रंग के चावल लेकर बांध लें और मां काली के चरणों में इसे समर्पित करें।

ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव

कुंडली विशेषज्ञ और प्रश्न शास्त्री

ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव पिछले 15 वर्षों से सटीक ज्योतिषीय फलादेश और घटना काल निर्धारण करने में महारत रखती है. कई प्रसिद्ध वेबसाईटस के लिए रेखा ज्योतिष परामर्श कार्य कर चुकी हैं। आचार्या रेखा एक बेहतरीन लेखिका भी हैं। इनके लिखे लेख कई बड़ी वेबसाईट, ई पत्रिकाओं और विश्व की सबसे चर्चित ज्योतिषीय पत्रिका फ्यूचर समाचार में शोधारित लेख एवं भविष्यकथन के कॉलम नियमित रुप से प्रकाशित होते रहते हैं। जीवन की स्थिति, आय, करियर, नौकरी, प्रेम जीवन, वैवाहिक जीवन, व्यापार, विदेशी यात्रा, ऋण और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य, धन, बच्चे, शिक्षा, विवाह, कानूनी विवाद, धार्मिक मान्यताओं और सर्जरी सहित जीवन के विभिन्न पहलुओं को फलादेश के माध्यम से हल करने में विशेषज्ञता रखती हैं।

brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer