जानिए, विवाह रेखा के अनुसार कि विवाह के पश्चात कैसा होगा आपका जीवन।

Indian Astrology | 24-Sep-2019

Views: 290

हमारे हाथ की हथेली में बहुत सी रेखाएं होती हैं, इन्हीं रेखाओं में एक वैवाहिक रेखा भी होती है जो हमारे वैवाहिक जीवन के बारे में बताती है कि विवाह के बाद हमारा भाग्य कितना तेज हो सकता है, हस्त रेखा विशेषज्ञों के अनुसार इस रेखा को देखकर हमारे भविष्य के वैवाहिक जीवन के बारे में बताया जा सकता है, बुध पर्वत से बाहर निकलने वाली रेखा को विवाह रेखा कहा जाता है. यह रेखा कनिष्ठिका अंगुली के नीचे और हृदय रेखा के ऊपर होती है।

Get Milan Kundli Report


विवाह रेखा के अनुसार जानिए विवाह के पश्चात् अपना भाग्य-

  • यदि किसी पुरुष के बाएं हाथ में दो विवाह रेखा हैं और दाएं हाथ में एक विवाह रेखा है तो ये शुभ संकेत माना जाता है, ऐसे पुरुषों की पत्नियां सर्वगुणसम्पन्न होती हैं और साथ ही अपने पति का बहुत ध्यान रखने वाली भी मानी जाती हैं।
  • हथेली में कनिष्ठिका अंगुली के नीचे के भाग को बुध पर्वत कहते हैं, कई बार हाथ में दो विवाह रेखा भी हो सकती हैं।
  • हस्त रेखा विशेषज्ञों के अनुसार जिन व्यक्तियों के हाथ में विवाह रेखा साफ, स्पष्ट, बारीक और गहरी होती है ऐसी रेखा को हाथ में शुभ माना जाता है।
  • वहीं अगर हाथ की रेखा साफ और कई जगह से टूटी हुई है तो इसे शुभ नहीं माना जाता, ऐसा कहा जाता है कि ऐसे लोगों के वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ सकती हैं।
  • ऐसा जाता है कि विवाह रेखा हृदय रेखा के पास है तो आपकी शादी 20 साल की उम्र से पहले हो सकती है। वहीं अगर आपकी विवाह रेखा छोटी अंगुली और हृदय रेखा के बीच में हैं तो आपकी शादी 22 वर्ष के बाद होने के संकेत है।
  • जिन व्यक्तियों की विवाह रेखा सूर्य पर्वत की ओर जाती है तो माना जाता है इन लोगों का जीवन साथी समृद्ध और सम्पन्न परिवार से होगा, इन लोगों के जीवन में कोई परेशानी नहीं होगी।
  • जिन लड़कियों की विवाह रेखा की शुरुआत में यदि कोई द्वीप का निशान है तो उन लड़कियों को शादी में धोखा मिल सकता है।
  • वहीं जिन लोगों के हाथ में विवाह रेखा सामान्य होती है तो उन लोगों का वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा।
  • जिन व्यक्तियों की हथेली में जीवन रेखा, भाग्य रेखा और मस्त‌िष्क रेखा से म‌िलकर ‘एम’ की आकृत‌ि बन रही है तो आप 35 से 55 साल के बीच खूब धन कमाएंगे इस रेखा का मतलब यह भी होता है क‌ि आपके जीवन में धन का आगमन व‌िवाह के बाद तेजी से होगा। व‌िवाह के बाद ही आप नौकरी या व्यवसाय में उन्नत‌ि की ओर बढ़ना शुरु करेंगे।

  • Get Kundli Matching for Marriage in Hindi Online


  • कुछ लोगों की हथेली में उनकी भाग्य रेखा ही धन की रेखा का काम करती है, ज‌िनकी हथेली में मण‌िबंध से ‌न‌िकलकर सीधी रेखा शन‌ि पर्वत पर पहुंचती है उन्हें धन का लाभ अपने आप अचानक ही म‌िलता रहता है। ऐसे व्यक्त‌ि पूर्वजन्मों के अच्छे कर्मो से धनवान बनते हैं।
  • हथेली में जीवन रेखा, भाग्य रेखा, मस्त‌िष्क रेखा या फ‌िर हृदय रेखा, भाग्य रेखा और मस्त‌िष्क रेखा से म‌िलकर त्रिकोण का च‌िन्ह बन रहा है तो आपकी हथेली में धन रेखा है, ऐसी रेखा होने का मतलब है क‌ि आप एक नहीं कई स्रोतों से धन कमाएंगे।
  • अंगूठे से पास से न‌िकलकर रेखा अगर आपकी तर्जनी यानी गुरु पर्वत के पास पहुंचती है तो यह संकेत है क‌ि आप बुद्ध‌िमान और चतुर व्यक्‍त‌ि होंगे, आप अपनी योग्यता से नेतृत्व क्षमता से धन कमाएंगे।
  • अंगूठे के पास से न‌िकलकर रेखा बुध पर्वत यानी छोटी उंगली की जड़ तक पहुंचे तो इसका मतलब है क‌ि आप अपने परिवार के सदस्यों सा पैतृक संपत्त‌ि से या क‌िसी स्‍त्री के सहयोग से धन प्राप्त कर सकते हैं।
  • यदि किसी व्यक्ति के हाथ में विवाह रेखा और हृदय रेखा के बीच की दूरी बहुत ही कम है तो ऐसे लोगों का विवाह कम उम्र में होने की संभावनाएं होती हैं।
  • आमतौर पर विवाह रेखा और हृदय रेखा के बीच की दूरी ही व्यक्ति के विवाह की उम्र बताती है। इन दोनों रेखाओं के बीच जितनी अधिक दूरी होगी विवाह उतने ही अधिक समय बाद होता है। ऐसी संभावनाएं काफी अधिक रहती हैं।
  • यदि किसी व्यक्ति के दोनों हाथों में विवाह रेखा की शुरुआत में दो शाखाएं हों तो उस व्यक्ति की शादी टूटने का डर रहता है।
  • यदि किसी स्त्री के हाथ में विवाह रेखा की शुरुआत में द्वीप का चिह्न हो तो ऐसी स्त्री की शादी किसी धोखे से होने की संभावनाएं रहती हैं. साथ ही यह निशान जीवन साथी के खराब स्वास्थ्य की ओर भी इशारा करता है।
  • यदि किसी व्यक्ति के हाथ में विवाह रेखा बहुत अधिक नीचे की ओर झुकी हुई दिखाई दे रही है और वह हृदय रेखा को काटते हुए नीचे की ओर चले जाए तो यह शुभ लक्षण नहीं माना जाता है, ऐसी रेखा वाले व्यक्ति के जीवन साथी की मृत्यु उसकी मौजूदगी में ही हो सकती है।
  • यदि किसी व्यक्ति की हथेली में विवाह रेखा लम्बी और सूर्य पर्वत तक जाने वाली है तो यह संपन्न और समृद्ध जीवन साथी का प्रतीक है।
  • यदि बुध पर्वत से आई हुई कोई रेखा विवाह रेखा को काट दे तो व्यक्ति का वैवाहिक जीवन परेशानियों भरा होता है।
  • विवाह रेखा अगर बीच में टूटी हो तो यह विवाह टूटने का संकेत माना जाता है इसके लिए हथेली के दूसरे चिह्नों पर भी विचार करना चाहिए।
  • यदि विवाह रेखा के अंत में किसी सांप की जीभ के समान दो शाखाएं हों तो यह पति-पत्नी के बीच वैचारिक मतभेद पैदा करती है।
  • यदि किसी पुरुष के बाएं हाथ में दो विवाह रेखा हैं और दाएं हाथ में एक विवाह रेखा है तो ऐसे लोगों की पत्नी श्रेष्ठ होती है। इन लोगों की पत्नी बहुत अधिक प्रेम करने वाली और पति का ध्यान रखने वाली होती है।
  • यदि दाएं हाथ में दो विवाह रेखा हैं और बाएं हाथ में एक विवाह रेखा है तो ऐसे लोगों की पत्नी अधिक ध्यान रखने वाली नहीं होती है।
Consult the best astrologers in India on Indianastrology.com. Click here to consult now!

Tags: Happy Marital Life | Happy Married Life | Happy Married Life In Hand | Palmistry | Palmistry | Happy Married Life | Palmistry Lines | Palmistry Marital Life | Marriage Line | Where The Marriage Line | What The Marriage Line Says | Love | Relationship


brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer